Search

23 मार्च 2015

कविता: जादू है बस् प्यार का

मीठे मीठे प्यार के नाम कुछ पंखुडियाँ... 


आज फिर लिखनी है 
एक कविता 
तुम्हारे नाम, मेरे प्यार!
तुम्हारे प्यार के नाम!


Image: Yellow wild flower


यह प्यार की गहराई 
एक दिन पहुँचेगी तुम्हारे दिल तक 
मैं इंतजार करूंगी 

तुमने कभी बताया नहीं 
और मैंने समझ भी लिया 
यही तो जादू है 
'हमारे' प्यार का 

तुम तो कभी बोलते ही नहीं 
पर मेरी भी शिकायत नहीं है कभी 
यही तो जादू है 'हमारे' प्यार का 

मिले भी नहीं कभी  
एक दूसरे से
और  दिल  दोनों  के पिघल गए 
यही तो जादू है 'हमारे' प्यार का 

मेरे गुस्से  से डरते हो 
तो प्यार क्यों करते हो?
प्यार में भी भला कोई  
डर होता है?

सुन लिया मैंने राज तुम्हारे दिलका 
प्यार तुमने है मुझीसे किया 

यही पंखुडियाँ अंग्रेजी में : डेप्थ ऑफ़ लव  

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

चैतन्यपूजा मे आपके सुंदर और पवित्र शब्दपुष्प.........!