Search

13 जून 2013

कृष्णप्रेमधारा

आज की प्रस्तुती भगवान कृष्ण के प्रेम के कारण है | सारे दुःख और मोह का कारण होता है मन, परन्तु भगवान कृष्ण का प्रेम उस मन को ऐसे मोहित कर देता है की उस प्रेम में सबकुछ अर्पित हो जाता है, जब सब कुछ कृष्णमय हो जाता है, तो हृदयसे बहती है कृष्णप्रेमधारा .....