Search

12 दिसंबर 2013

गीता जयंती पर्व पर भगवद्गीता पारायण

नमस्ते बन्धुओ और बहनो!

मोक्षदा एकादशी को गीता जयंती होती है इस वर्ष गीता जयंती १३ दिसंबर को है आप सभी आमंत्रित हैं, गीता पारायण के महाउत्सव में  हम सभी - विश्व के विभिन्न भागों से फेसबुक के माध्यम से जुड़े हुए हैं इसलिए हम फेसबुक के माध्यम से ही यह उत्सव वैश्विक स्तर पर आयोजित कर रहें हैं 

24 नवंबर 2013

साधक की प्रार्थना

हिंदी ब्लॉग के रूप में चल रही चैतन्यपुजा को आज तीन वर्ष पुरे हुए...विश्वास नहीं होता 'यश दो हे भगवन्' इस प्रार्थना से इस  ब्लॉग का प्रारंभ हुआ और आज तीन वर्ष हो गए, भगवान ने यथार्थ में यश से परिपूर्ण लेखन मुझसे लिखवा के मेरा जीवन धन्य कर दिया ब्लॉग या लेखन का यश यह यथार्थ रूपसे यश है यह बार बार यहाँ और अन्य ब्लॉग पे भी अधोरेखित करने का कारण यह है की वास्तव में पूजा वह है जिससे मन में उठते अनंत तरंग शांत हो एक अद्भुत आनंद का अनुभव हो और जब यह अनुभव केवल कुछ क्षणों या कुछ समय के लिएहि न रहकर जीवन के हर क्षण का ही अनुभव बन जाए, जीवन ही आनंदमय बन जाए तो वह यश शाश्वत है और मनुष्यदेह का सार्थक भी है ऐसा यश और आनंदामृत का पान करानेवाला दिव्य लेखन लिखने की क्षमता मुझमें नहीं है, ना मेरी वह योग्यता भी है, परन्तु फिर भी ऐसा हो रहा है और तीन वर्षों से भी अधिक समय से सहज ही हो रहा है इसमें श्रीसद्गुरुदेव की कृपा हे एकमेव कारण है  

13 जून 2013

कृष्णप्रेमधारा

आज की प्रस्तुती भगवान कृष्ण के प्रेम के कारण है | सारे दुःख और मोह का कारण होता है मन, परन्तु भगवान कृष्ण का प्रेम उस मन को ऐसे मोहित कर देता है की उस प्रेम में सबकुछ अर्पित हो जाता है, जब सब कुछ कृष्णमय हो जाता है, तो हृदयसे बहती है कृष्णप्रेमधारा .....

27 जनवरी 2013

सफल कर्मरहस्य

नमस्ते बंधुओं और भगिनियों| बहुत दिनों से कुछ हिंदी काव्य लिखा नहीं। आप सबका बहुत स्मरण होता था, कुछ न कुछ लिखने का मन करता था पर लिख नहीं पाते थे। आज बहुत दिनों बाद चैतन्यपूजा में हिन्दी की सेवा तथा काव्यसाधना हो रही है और मन अतिशय प्रसन्न है।